चार मुखी रुद्राक्ष – जेम्स फॉर एवरीवन

  • क्वालिटी
  • साइज
  • वज़न
  • पैसा वसूल
5/5Overall Score

नैचरल चार मुखी रुद्राक्ष लैब सर्टिफिकेट के साथ
कीमत:  ₹200 से शुरू
वजन: 2.5 gram से 4.5 gram
मुखी: 4 मुखी
साइज : 16 mm से 22 mm
मूल: नेपाल

Specs
  • नैचरल रुद्राक्ष: 100% नैचरल रुद्राक्ष लैब सर्टिफिकेट के साथ
  • उच्चतम क्वालिटी: बेहतरीन क्वालिटी के रुद्राक्ष के दाने
Pros
  • ✔️ 100% नैचरल
  • ✔️ सबसे कम कीमत
  • ✔️ लैब सर्टिफाइड
  • ✔️ वीडियो कॉल निरीक्षण खरीदने से पहले
  • ✔️ सुरक्षित पेमेंट
  • ✔️ उत्तम क्वालिटी का प्रोडक्ट

जेम्स फॉर एवरीवन – नागपुर और इंटरनेट पर रत्न, रत्नों के गहनों और हीरे के आभूषणों का प्रमुख प्रदाता है। जेम्स फॉर एवरीवन मै आपको प्राकृतिक रंग के रत्नों की एक विस्तृत श्रृंखला मिलेगी जैसे – नीलम, पुखराज, पन्ना, माणिक, मोती, गोमेद, मूंगा, लहसुनिया, हीरा आदि। सभी प्रकार के नव ग्रह के नग लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचे जाते है।
1 से १४ मुखी नैचरल रुद्राक्ष लैब सर्टिफिकेट के साथ मिलते है। मार्किट से आधी रेट पर सर्टिफाइड रुद्राक्ष मिलते है।

असली रुद्राक्ष खरीदने के लिए आज ही फ़ोन करें 08275555557 पर या 08275555507 पर कॉल करें। यहाँ से सस्ते रुद्राक्ष आप को कही नहीं मिलेंगे।

सावधान – आज बाजार मैं कई लोग नकली रुद्राक्ष बेच रहे है। इन लोगो सें सावधान रहे। आप हमारे यहाँ से बाजार मैं मिलने वाले रुद्राक्ष आधी कीमत पर खरीद सकते है।

आइये जानते है चार मुखी रुद्राक्ष की विशेषताए

चार मुखी रुद्राक्ष सबसे महत्वपूर्ण रुद्राक्ष है, जो वर्तमान जीवन को बेहतर बनाने में मदद करता है इस रुद्राक्ष में 4 धारियां होती हैं इसे चतुर्मुख ब्रह्मा का स्वरूप माना गया है। यह रुद्राक्ष चार वर्ण, चार आश्रम यानि ब्रह्मचर्य, गृहस्थ, वानप्रस्थ और सन्यास के द्वारा पूजित और परम वंदनीय है।

चार मुखी रुद्राक्ष का अधिपति ग्रह बुध है, जिस कारण यह आपको शिक्षा के क्षेत्र में सफलता दिलाने में, बुध के नकारात्मक प्रभावों को कम करने और विद्या की देवी मां सरस्वती की कृपा पाने के लिए उत्तम है। जिन बच्चों का मन पढ़ने में नहीं लगता है या फिर बोलने में अटकता है उसे यह रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। इसको धारण करने से व्यभिचारी भी ब्रह्मचारी और नास्तिक भी आस्तिक हो जाता है। यह इंद्रियों को जगाने और जीवन के उद्देश्य के बारे में अधिक जागरूक बनने में मदद करता है।

चार मुखी रुद्राक्ष बृस्हपति ग्रह से जुडा है जो समृद्धि, धन और अच्छाई का प्रतीक है। इस प्रकार का रुद्राक्ष अंतर्मुखी लोगों को बर्हिमुखी बनाने और उनके आत्मविश्वास को बढ़ाने में मदद करता है।

चार मुखी रुद्राक्ष पहनने के फायदे

  • रुद्राक्ष लोगों को शर्मीले और कमजोर स्वभाव से उबरने में मदद करता है
  • रुद्राक्ष पहनने वाले को आध्यात्मिक विश्वास और अंतर्दृष्टि विकसित करने में मदद करता है
  • रुद्राक्ष पहनने वाले को मनोरोग, मस्तिष्क विकार, से बचाता है
  • रुद्राक्ष पहनने वाले को आत्मविश्वास औऱ रचनात्मकता प्राप्त करने में मदद करता है
  • रुद्राक्ष बुद्धि का विस्तार करता है
  • रुद्राक्ष बेहतर निर्णय लेने के लिए लोगों को मजाकिया बनाने में मदद करता है
  • लेखकों, छात्रों, विद्वानों, शोधकर्ताओं और पत्रकारों को इसे धारण करने की सलाह दी जाती है
  • रुद्राक्ष का एक मुख्य लाभ यह है कि यह संचार को बढ़ाता है
  • रुद्राक्ष उन लोगों के बौद्धिक क्षमता को बढ़ाता ह जो बौद्धिक रूप से सुस्त हैं

चार मुखी रुद्राक्ष किसको धारण करना चाहये

  • राशि के अनुसार – मिथुन राशि, कन्या राशि वालों को चार मुखी रुद्राक्ष अवश्य पहनना चाहिए
  • लग्न के अनुसार – मिथुन लग्न, कन्या लग्न वालों को चार मुखी रुद्राक्ष अवश्य पहनना चाहिए
  • नक्षत्र के अनुसार – आष्लेषा नक्षत्र, ज्येष्ठा नक्षत्र, रेवती नक्षत्र वालों को चार मुखी रुद्राक्ष अवश्य पहनना चाहिए
  • मूलांक अंक 5 वालों को चार मुखी रुद्राक्ष अवश्य पहनना चाहिए
  • जिन जातकों का बुध नीच का हो और मीन राशि में अगर विराजमान हो तो उन जातको का बुध  6 वे 8 वे 12-वे स्थान में बैठा और अगर बुध कमजोर हो तो उन जातक भी चार मुखी रुद्राक्ष पहन सकते हैं।

चार मुखी रुद्राक्ष को धारण करने की विधि

  • चार मुखी रुद्राक्ष को “ॐ ब्रह्म देवाय नम:” मंत्र से अभिमंत्रित करके धारण करना अति आवश्यक है।
  • चार मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का दिन सोमवार अथवा
  • शिवरात्रि के दिन या श्रावण मास के किसी भी दिन रुद्राक्ष धारण करने के लिए शुभ माने गये है।
  • चार मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मंत्र “ॐ ह्रीं नमः”है और शिव का पंचाक्षर बीज मंत्र “ॐ नमःशिवाय” है। दोनों में से किसी भी एक मंत्र का 108 उच्चारण कर चार मुखी रुद्राक्ष को धारण किया जा सकता है।
  • ध्यान रहे नियमित पांच माला का “ॐ नमः शिवाय” मंत्र का जाप करने से इसका प्रभाव कई गुना बढ़ जाता है।
  • रुद्राक्ष हमेशा चांदी, सोने और तांबे या पंचधातु में और इसे काले या लाल धागे के साथ एक मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए

ये सभी रिव्यू और रेटिंग हमारे ग्राहकों द्वारा दिए गए है

नए अपडेट पाने के लिए अपनी डिटेल्स शेयर करे

नैचरॅल सर्टिफाइड रुद्राक्ष कॉम्बो ऑफर

3, 4, 5, 6 और 7 मुखी केवल ₹800