माँ काली अष्टोत्तर शतनामावली

इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें

Maa Kali Ashtottara Shatanamavali

ॐ काल्यै नमः।

ॐ कपालिन्यै नमः।

ॐ कान्तायै नमः।

ॐ कामदायै नमः।

ॐ कामसुन्दर्यै नमः।

ॐ कालरात्र्यै नमः।

ॐ कालिकायै नमः।

ॐ कालभैरवपूजितायै नमः।

ॐ कुरूकुल्लायै नमः।

ॐ कामिन्यै नमः।

ॐ कमनीयस्वभाविन्यै नमः।

ॐ कुलीनायै नमः।

ॐ कुलकर्त्र्यै नमः।

ॐ कुलवर्त्मप्रकाशिन्यै नमः।

ॐ कस्तूरीरसनीलायै नमः।

ॐ काम्यायै नमः।

ॐ कामस्वरूपिण्यै नमः।

ॐ ककारवर्णनिलयायै नमः।

ॐ कामधेन्वै नमः।

ॐ कारालिकायै नमः।

ॐ कुलकान्तायै नमः।

ॐ करालास्यायै नमः।

ॐ कामार्तायै नमः।

ॐ कलावत्यै नमः।

ॐ कृशोदर्यै नमः।

ॐ कामाख्यायै नमः।

ॐ कौमार्यै नमः।

ॐ कुलपालिन्यै नमः।

ॐ कुलजायै नमः।

ॐ कुलकन्यायै नमः।

ॐ कलहायै नमः।

ॐ कुलपूजितायै नमः।

ॐ कामेश्वर्यै नमः।

ॐ कामकान्तायै नमः।

ॐ कुञ्जेश्वरगामिन्यै नमः।

ॐ कामदात्र्यै नमः।

ॐ कामहर्त्र्यै नमः।

ॐ कृष्णायै नमः।

ॐ कपर्दिन्यै नमः।

ॐ कुमुदायै नमः।

ॐ कृष्णदेहायै नमः।

ॐ कालिन्द्यै नमः।

ॐ कुलपूजितायै नमः।

ॐ काश्यप्यै नमः।

ॐ कृष्णमात्रे नमः।

ॐ कुशिशाङ्ग्यै नमः।

ॐ कलायै नमः।

ॐ क्रींरूपायै नमः।

ॐ कुलगम्यायै नमः।

ॐ कमलायै नमः।

ॐ कृष्णपूजितायै नमः।

ॐ कृशाङ्ग्यै नमः।

ॐ किन्नर्यै नमः।

ॐ कर्त्र्यै नमः।

ॐ कलकण्ठयै नमः।

ॐ कार्तिक्यै नमः।

ॐ कम्बुकण्ठ्यै नमः।

ॐ कौलिन्यै नमः।

ॐ कुमुदायै नमः।

ॐ कामजीविन्यै नमः।

ॐ कुलस्त्रियै नमः।

ॐ कीर्तिकायै नमः।

ॐ कृत्यायै नमः।

ॐ कीर्त्यै नमः।

ॐ कुलपालिकायै नमः।

ॐ कामदेवकलायै नमः।

ॐ कल्पलतायै नमः।

ॐ कामाङ्ग्वर्धिन्यै नमः।

ॐ कुन्तायै नमः।

ॐ कुमुदप्रीतायै नमः।

ॐ कदम्बकुसुमोत्सुकायै नमः।

ॐ कादम्बिन्यै नमः।

ॐ कमलिन्यै नमः।

ॐ कृष्णानन्दप्रदायिन्यै नमः।

ॐ कुमारीपूजनरतायै नमः।

ॐ कुमारीगणशोभितायै नमः।

ॐ कुमारीरञ्जनरतायै नमः।

ॐ कुमारीव्रतधारिण्यै नमः।

ॐ कङ्काल्यै नमः।

ॐ कमनीयायै नमः।

ॐ कामशास्त्रविशारदायै नमः।

ॐ कपालखट्वाङ्गधरायै नमः।

ॐ कालभैरवरूपिण्यै नमः।

ॐ कोटर्यै नमः।

ॐ कोटराक्ष्यै नमः।

ॐ काशीवासिन्यै नमः।

ॐ कैलासवासिन्यै नमः।

ॐ कात्यायन्यै नमः।

ॐ कार्यकर्यै नमः।

ॐ काव्यशास्त्रप्रमोदिन्यै नमः।

ॐ कामाकर्षणरूपायै नमः।

ॐ कामपीठनिवासिन्यै नमः।

ॐ कङ्गिन्यै नमः।

ॐ काकिन्यै नमः।

ॐ क्रीडायै नमः।

ॐ कुत्सितायै नमः।

ॐ कलहप्रियायै नमः।

ॐ कुण्डगोलोद्भवप्राणायै नमः।

ॐ कौशिक्यै नमः।

ॐ कीर्तिवर्धिन्यै नमः।

ॐ कुम्भस्तन्यै नमः।

ॐ कटाक्षायै नमः।

ॐ काव्यायै नमः।

ॐ कोकनदप्रियायै नमः।

ॐ कान्तारवासिन्यै नमः।

ॐ कान्त्यै नमः।

ॐ कठिनायै नमः।

ॐ कृष्णवल्लभायै नमः।

इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें
Default image
Gyanchand Bundiwal
Gemologist, Astrologer. Owner at Gems For Everyone and Koti Devi Devta.
Articles: 449

Leave a Reply

नए अपडेट पाने के लिए अपनी डिटेल्स शेयर करे

नैचरॅल सर्टिफाइड रुद्राक्ष कॉम्बो ऑफर

3, 4, 5, 6 और 7 मुखी केवल ₹800